Monday, September 29, 2008

सुनहरा अनुपात... और सब कुछ !

पिछले कुछ पोस्ट से... यहाँ पाया जाता है, वहां पाया जाता है ! आज समाप्त ही कर देते है... हर जगह पाया जाता है ! कम से कम हर खुबसूरत चीज में....

हर जगह पाया जाने वाला यह दैविक अनुपात प्रकृति में भी बहुतायत में पाया जाता है... घोघा शंख और मानव शरीर में इसकी उपस्थिति तो हम देख ही चुके हैं. फूलों और पत्तियों की बनावट में भी बड़ी आसानी से इसे पाया जाता है. सूर्यमुखी का फूल सबसे बड़ा उदहारण है जिनमें कई सारे गोल्डन स्पयाराल्स होते हैं. आज मुझे लगता है की लिखने से बेहतर है की कुछ लाजवाब लिंक दे दिए जाएँ... इतनी मेहनत से किसी ने ये साईट तैयार की है... और मेरा विश्वास है की एक बार देखने के बाद आपको आश्चर्य जरूर होगा... कहाँ नहीं पाया जाता ये अनुपात?

मानव शरीर में इसकी उपस्थिति: (सारे तस्वीर इसी लिंक से)

01.zahnface02.facesideइस लिंक पर आप इन से सम्बंधित चित्र और व्याख्या देख सकते हैं:

- सुन्दरता और चहरे के माप के अनुपात

- मानव शरीर के विभिन्न अंगों का अनुपात

- तर्जनी अंगुली के विभिन्न हिस्सों में इस अनुपात और फिबोनाच्ची की उपस्थिति. (चित्र में)

04.finger

- कान, आँख, हाथ तथा दांत जैसे अंगों में इसकी उपस्थिति.

- डीएनए और ईसीजी में उपस्थिति

- कुछ मछली, कीडे, चिडिया... इत्यादि में


प्रकृति में: अब ये स्लाइड शो देखिये... गैलेक्सी से लेकर, फूलों, फलों और पत्तियों में आप देख पायेंगे !

वैसे तो हम कला और स्थापत्य कला में इसकी उपस्थिति देख चुके हैं पर आज ये लिंक इतना कमाल का मिल गया की इसका लिंक दिए बिना नहीं रहा गया. तो ये भी देख लीजिये.

मानव शरीर और प्रकृति पर ये स्लाइड शो मिल जाने के बाद लिखने की कुछ गुन्जाईस ही नहीं बचती. अब संगीत में तो वायलिन की संरचना ही देख लीजिये. ऐसा पाया गया है कि जो संगीत सुनने के कक्ष सबसे अच्छे होते हैं उनके माप का अनुपात इस अनुपात के काफ़ी करीब होता हैं. संगीत के क्रम में जो अंतराल होते हैं उनमें इसकी उपस्थिति होती है... मुझे संगीत का कुछ ज्ञान नहीं पर ये बातें शायद आपको समझ में आए.

अब जाते-जाते सुन्दरता... ऐसे प्रयोग किए गए और निष्कर्ष निकाला गया कि जिनके चहरे में ये अनुपात होता है वो ज्यादा आकर्षक होते हैं. परफेक्ट फेस की भी मोडेलिंग की गई. इस पर भी ये लिंक देख आइये. जाते-जाते एक बार और अनुरोध करना चाहूँगा की ये सारे लिंक देख लें... निराशा नहीं होगी. सुनहरे अनुपात की श्रृंखला को अगर इन लिंकों के साथ ख़त्म न किया जाय तो चलती ही रहेगी.

इसके बाद भी किसी को जिज्ञासा हो या जिज्ञासा पैदा हो गई हो... तो अपना ईमेल दे दीजिये पूरी किताब पड़ी है मेरे पास... जिनमें दो २५० पन्नों से ज्यादा की हैं !

इस श्रृंखला की पिछली कड़ियाँ:

सुनहरा अनुपात और स्थापत्यकला
सुनहरा अनुपात और चित्रकारी
सुनहरा आयत, अनुपात और फिबोनाच्ची
कलाकारों और वास्तुशिल्पियों की पसंद: सुनहरा अनुपात

उत्कृष्ट लिंक:

http://milan.milanovic.org/math/

http://www.mcs.surrey.ac.uk/Personal/R.Knott/Fibonacci/fib.html

~Abhishek Ojha~



और अगर कभी फुर्सत मिले तो ये विडियो भी... थोड़ा समय लगेगा पर है कमाल का !

18 comments:

  1. अब पढ़ लिया और चला, अपनी फोटू में अनुपात नापने. बड़ी रोचक रही यह श्रृंख्ला.

    ReplyDelete
  2. इसनिप्स पर यह किस तरह की फाइल पर अपलोड किया गया है। क्या इस प्रकाश डाल सकते हैं।

    ReplyDelete
  3. "really very interetsing to read this artical, strange.."

    Regards

    ReplyDelete
  4. बहुत मसाला दे दिया है। लिंक शाम को देखे जाएंगे, दिन में कद्दू दिवस मनाना है। कल अवकाश है।

    ReplyDelete
  5. लगता है मेथमेटिकल अनुपात के शरीर सुगढ़/सममित और सुन्दर होते हैं।

    ReplyDelete
  6. झकास है भाई ......कई नई मशीन ओर है जो बालो की डेन्सिटी नापती है ओर दूसरी आपकी त्वचा की उम्र ?जी हाँ चौकिये नही ..क्या आपने सुना नही पुराना ad ..अरे आपकी त्वचा से तो आपकी उम्र का पता नही चलता...तो अनुपात के खेल ओर भी है....मुआफ करे वरना गुरुवर कहेगे तुम साले यहाँ अपनी दुकान चमका रहे हो.....
    भाई अभिषेक सच्ची यार..... पक्के आईटीयन(i.i.t) हो तुम!

    ReplyDelete
  7. दिलचस्प लेख है ।और बहुत सारे दिलचस्प लिंक भी दिए है ।

    ReplyDelete
  8. आप तो छा गए सुनहरे अनुपात के साथ ! वाह !!

    ReplyDelete
  9. बहुत सुंदर आलेख है अभिषेक जी। लिंकों ने इसकी खूबसूरती और बढ़ा दी है। आपके लेखों को जिसने पढ़ लिया हो, उससे कोई गणित के बारे में पूछे तो वह निश्चित तौर पर इसे कला का विषय बताएगा :)

    ReplyDelete
  10. धन्यवाद मे जा कर देखता हुं, लगता तो मजेदार हे.

    ReplyDelete
  11. बहुत विस्तार से समझाया अनुपात के बारे मेँ और लिन्क्स भी बढिया रहे अभिषेक भाई...
    - लावण्या

    ReplyDelete
  12. आप हिन्दी की सेवा कर रहे हैं, इसके लिए साधुवाद। हिन्दुस्तानी एकेडेमी से जुड़कर हिन्दी के उन्नयन में अपना सक्रिय सहयोग करें।

    ~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~
    सर्व मंगल मांगल्ये शिवे सर्वार्थसाधिके।
    शरण्ये त्रयम्बके गौरि नारायणी नमोस्तुते॥


    शारदीय नवरात्र में माँ दुर्गा की कृपा से आपकी सभी मनोकामनाएं पूर्ण हों। हार्दिक शुभकामना!
    (हिन्दुस्तानी एकेडेमी)
    ~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~

    ReplyDelete
  13. सुनहरे अनुपात के बारे में कुछ तो पता था. लेकिन इतना ज़्यादा तो हरगिज़ नहीं.

    ReplyDelete
  14. ab gadi patri par tez raftar chalti lagati hai..bdhayi swikaren ..aur lage hanth mujhe thanks bhi bol dijiye :-)

    ReplyDelete
  15. सुनहरा अनुपात के बारे में आपने बहुत सलीके से जानकारी दी है और साथ में दी गयी कडियाँ भी उपयोगी हैं। धन्यवाद।

    ReplyDelete
  16. This comment has been removed by the author.

    ReplyDelete